ब्लॉगिंग (blog site) क्या है? करे कैसे? कितना पैसा? blogging ki puri jankari

bloggig ki puri jankari

दोस्तो टेक्निकल परिवार में आपका स्वागत है। हम आप लोगों के लिए रोज नई नई पोस्ट लेकर आते रहते हैं ।जो आपके लिए काफी फायदेमंद है ,और इससे आपको टेक्नोलॉजी और internet के बारे में नई नई जानकारियां मिलती रहती है। पोस्ट की वीडियो आपको यूट्यूब पर टेक्निकल परिवार मैं मिल जाएंगे। इसके साथ ही आप हमारे युटुब चैनल टेक्निकल परिवार को सब्सक्राइब करें।और नोटिफिकेशन बेल आइकन को दबाएं।

नमस्कार दोस्तों जब से Covid-19 बड़ा है तब से ऑनलाइन काम को बहुत अधिक बढ़ावा दिया जा रहा है और उसके कारण लोग ऑनलाइन काम को ज्यादा महत्व दे रहे हैं इसी को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको बताएंगे कि ब्लॉगिंग क्या है और आप ब्लॉगिंग करके किस प्रकार पैसे कमा सकते हैं। blog se paise kaise kamaye (ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए जाते है?) ।उससे पहले आपको यह जानना बहुत जरूरी है कि ब्लॉगिंग क्या होती है।

ब्लॉगिंग की सबसे विशेष बात यह होती है, कि यदि आप सही तरीके से और धैर्य के साथ ब्लॉगिंग करते हैं तो आप 1 महीने में इतना पैसा कमा सकते हैं जितना कोई बंदा 1 साल में कमाता हो इसके साथ साथ ही आपको कोई अन्य नौकरी करने की आवश्यकता ही नहीं पड़ती लेकिन ब्लॉगिंग करने में सबसे बड़ी कठिनाई यह है कि इसमें आपको धैर्य रखना पड़ता है इसमें आपको blog site में तुरंत रिजल्ट नहीं मिलेगा।


blogging kya hai 2021 in hindi? isse paise kaise kamaye

Blogging / blog se paise earning kaise hoti hain - how to earn form blogging

Blogging kya hai aur blogging ke jariye ham kis prakar online paise Kama sakte hain

आपने कभ-ना-कभी किसी ने किसी से ब्लॉगिंग के बारे में जरूर सुना होगा अगर नहीं सुना तो भी कोई बात नहीं क्योंकि आज के लेख में हम आपको blogging ki puri jankari in hindi संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं इसके साथ-साथ ही कुछ ऐसे blogging tips और जरूरी बातें भी बताने वाले हैं जिनका इस्तेमाल करके आप बहुत ही आसानी से ब्लॉगिंग करके पैसा कमा सकते हैं और अपना खुद का एक ब्लॉग बनाकर अच्छा खासा पैसा कर सकते हैं। आइए सबसे पहले जानते हैं कि ब्लॉगिंग क्या है??


What is blogging in hindi?ब्लॉग क्या है?

dosto blogging kya hota hain. blog kya h. our isko kaise banaye ye hum niche ke points me jaan jayenge is liye is blog post ko full contraction se pade.


#1 blog kya hai? ब्लॉग क्या होता है?

अगर हम सामान्य शब्दों में कहे तो ब्लॉक एक ऐसी प्लेटफार्म एक ऐसी जगह होती है जहां पर लोग अपने विचारों को अपने अनुभवों को यह किसी भी विषय से संबंधित संपूर्ण जानकारी के विशेष जानकारी को सांझा करते हैं।
उदाहरण स्वरूप: – मान लीजिए आप गूगल पर या किसी पर ब्राउज़र पर किसी भी विषय से संबंधित जानकारी सर्च करते हैं तो आपको गूगल उस विषय के बारे में बहुत सारी जानकारी उपलब्ध कराता है यह जानकारी किसी न किसी वेबसाइट पर मिलती है, वह वेबसाइट ही ब्लॉग कहलाती है।

dusre sabdo me kahe ki blog ek website hi hota hain jisme apne vichar ( thinking ) or apne ideas apne visitors ke sath shayar kiya jata hain. or is site ko hi blog website kahate hain.

मैं आशा करती हूं कि आप समझ गए होंगे कि ब्लॉग क्या होता है सीधी भाषा में अपने विचारों को अपने अनुभवों को दूसरों के साथ इंटरनेट पर ब्लॉग के माध्यम से शेयर करना।


#2 ब्लॉगर कोन होता है ? (blogger kon hota hai)

जब आप यह समझ गए हैं कि ब्लॉग क्या होता है, तो सामान्य से बात है जो व्यक्ति ब्लॉग लिखता है वही ब्लॉगर होता है
blog करने वाला या ब्लॉगिंग के अंदर पोस्ट लिखने वाला व्यक्ति ब्लॉगर कहलाता है जो अपने भावों, अपने अनुभवों, या अपनी किसी विशेष जानकारी को पोस्ट के माध्यम से लोगों तक पहुंचाता है।


#3 ब्लॉगिंग क्या है?? (Blogging kya hoti hai)

अपने बहुत सारे लोगों को कहते भी सुना होगा कि मैं ब्लॉगिंग कर रहा हूं।, कंटेंट राइटिंग कर रहा हूं।
ब्लॉगिंग करने का सीधा साधा मतलब यही होता है कि किसी भी साइट पर या फिर अपनी खुद की साइट पर लगातार नियमित रूप से अपने भावों अपने विचारों को लिखकर पोस्ट करना ही ब्लॉगिंग कहलाता हैं।

ब्लॉग में पोस्ट लिखने के लिए कई कार्य करने पड़ते हैं जैसे: कंटेंट को लिखना, linking करना, seo करना, डिजाइन करना अथार्थ एक पोस्ट को पूरा करने के लिए जो प्रक्रिया अपनाई जाती है अर्थात वह संपूर्ण कार्य ब्लॉगिंग कहलाता है।


blogging kitne prakar ki hoti hai(ब्लॉगिंग कितने प्रकार की होती है)

Blog website kitne parkar ki hoti hain ( types of blog )
Blogging ke parkar (types of blog site

types of blog site bahut sare hote hain kuch log blogging ko unki categories ke anusar dekhte hain to kuchh log blog site ke nature ke hisab se blogging ke parkar baatate hain.


blogging site ke parkar category ke anusar

  1. Fashion Blog
  2. Music Blog
  3. Lifestyle Blog
  4. Fitness Blog
  5. Food Blog
  6. Travel Blog
  7. Review blog
  8. DIY Blog
  9. Sports Blog

blogging site ke parkar blog-Nature ke anusar

  • Event blogging
  • Wide blogging
  • Personal Blogs
  • diary blogs
  • Business Blog
  • Professional Blog
  • Niche blog
  • Micro niche blogging
  • Reverse blog
  • Affiliate Blog
  • Media blogs
  • Freelance blogger

Event blogging:- इस प्रकार के ब्लॉग शेली कुछ विशेष अवसरों पर बनाई जाती है। जैसे होली,दिवाली, या कोई और अवसर

आपने कई बार दिवाली पर या किसी भी विशेष अवसर पर व्हाट्सएप पर फेसबुक पर एक लिंक whatsapp message में देखा होगा और उस लिंक पर क्लिक करते ही अवसर से संबंधित फोटोज वीडियोस आपके सामने आने लगते हैं, यह इवेंट event blogging ब्लॉगिंग होती है।

Event blogging में content कम या बहुत कम डालने पड़ते हैं। और ज्यादा से ज्यादा शेयर करना पड़ता है। इसमें जितने से ज्यादा शेयर करते हैं उतनी ही इनकम होती है यह कुछ समय के लिए होती है।

Wide blogging news:- Wide blogging यह एक न्यूज़ साइट की तरह होती है। जिसमें आप सभी categories को यानी सभी प्रकार की न्यूज़ को, सभी प्रकार के टॉपिक्स को कवर करते हैं। जैसे एक ही ब्लोग साइट पर स्वास्थ्य से संबंधित टेक्नोलॉजी से संबंधित राजनीति सेे संबंधित

Personal Blog:- जैसा की पर्सनल ब्लॉग के नाम से समझ में आ रहा है कि पर्सनल ब्लॉग क्या होता है। पर्सनल ब्लॉग में लोग अपनी दैनिक दिनचर्या, या अपनी जीवन शैली के बारे में लिखना पसंद करते हैं। वह ज्यादातर लोगों के होते हैं जो कोई सेलिब्रिटी हैं या फिर राइटर होते है। जिनकी जीवन के बारे में लोग जानना पसंद करते हैं।

Niche blogging:- निस ब्लॉगिंग के अंदर किसी विशेष एक ही विषय से संबंधित ब्लॉगिंग की जाती है और उसी विषय से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करवाई जाती है।
जैसे मान लीजिए हमारी साइट टेकनिकल साइट है। हां पर आपको टेक्नोलॉजी से संबंधित सभी प्रकार की पोस्ट मिलेगी तो यह एक निस हो गई। अर्थात किसी एक ही सब्जेक्ट पर पोस्ट लिखना निस ब्लॉगिंग कहलाता है।

Micro niche blogging:- Micro niche blogging ek trah se niche blogging ka niche hain yani ki ek kisi kas category/subject ka bhi koi khas topic par blogging karna Micro Niche Blogging hota hain.

jaise: watch review blog, 5g mobile reviews blog ,


ब्लॉगिंग करने के क्या-क्या फायदे हैं? benefits of blogging in hindi

kya aap jante hain ki blogging karne ke kya kya fayade hain? to ynah main aapko bahut sare fayade gina sakta hu. blog site par kaam karke aap bahut kuch fayde utha sakte hain. jo mne ynaha bataya hain.

Blogging is Income source:-

आप एक बहुत ही अच्छे ब्लॉगर है और आपको ब्लॉगिंग करना अच्छे से आता है तो आपको नौकरी भी करने की जरूरत नहीं है आप ब्लॉगिंग के तहत इतना पैसा कमा सकते हैं जितना एक व्यक्ति एक साल में कम आता है उतना ही आप 1 महीने में कमा सकते हैं, ब्लॉग लेखन आमदनी का अच्छा साधन है।

Blogging se earning kaise kare
Blog se paise kamaye – technical pariwar

Time freedom for blog work:-

Blogging करते समय यदि आपकी खुद की साइट है। तो आपके ऊपर किसी भी प्रकार का प्रेशर नहीं होता है। आप अपने समय के अनुसार पोस्ट लिख सकते हैं। यदि आप कोई घरेलू महिला है तो ब्लॉगिंग आपके लिए सबसे फायदेमंद है क्योंकि इसमें आप अपने घर को और अपने काम को दोनों को बहुत ही आसानी से मैनेज कर सकते हैं। आप अपनी सहूलियत के हिसाब से ब्लॉगिंग कर सकते आप के ऊपर समय का कोई भी दबाव नहीं होता।
कि इसी समय आपको ब्लॉगिंग करनी पड़ेगी।

earn Name and fame via blogging:-

ब्लॉगिंग के तहत आपको सिर्फ केवल पैसा और समय ही नहीं बचता इसके तहत आपकी एक अच्छी गुडविल भी बनती है और आपका नाम और प्रसिद्धि भी होती है यदि आप एक अच्छे ब्लॉगर है तो धीरे-धीरे लोग आपको जानने लगेंगे आपकी पोस्ट को पढ़ना पसंद करेंगे और इससे आपको प्रसिद्ध भी मिलेगी।

No boss and No any pressure :-

यदि आपकी खुद की ब्लॉगिंग साइट है तो आप खुद के मालिक से होते हैं आप पर किसी भी प्रकार का कोई दबाव नहीं होता आप अपनी सहूलियत के हिसाब से अपनी साइट को अपने विचारों को अपने अनुभवों को व्यक्त कर सकते हैं इसमें आपको कहने वाला कोई नहीं होता कि यह कार्य ऐसे किया जाए आप अपनी मर्जी के मालिक खुद होते हैं और अपनी इच्छा और अपने अनुभवों से और अपने विचारों से अपने साइट को खुद मैनेज कर सकते हैं।


ब्लॉगिंग करते समय किन किन बातों का ध्यान रखें blogging me kya kya savdhani rakhni chahiye?

Blogging me kya kya savadhani rakhe? Full details of blogging

(1) regular post:-

ब्लॉगिंग करते समय आपको सबसे महत्वपूर्ण बात हुई है ध्यान में रखनी है कि आपको इसमें नियमित रहना है अर्थात नियमित रूप से काम करते रहना है। ज्यादा पोस्ट संभव नहीं हो सके तो कम से कम आपको 1 दिन की एक पोस्ट तो डालने ही चाहिए। ऐसा नहीं होना चाहिए कि आप एक दिन पोस्ट डाल रहे हैं और 2 दिन पोस्ट नहीं डाल रहे आप को नियमित रूप से पोस्ट डालनी है।

(2) SEO करना ना भूले

जब भी आप कोई पोस्ट लिखें तो ऐसी हो तो seo करना ना भूले। seo का मतलब होता है (सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन।) जब भी हम कोई पोस्ट लिखते हैं तो गूगल उस पोस्ट में लिखे गए कुछ कीवर्ड के आधार पर वह पोस्ट गूगल पर सर्च में लाता है इसलिए जब भी हम पोस्ट लिखते हैं तो उसके अंदर हमें कुछ ऐसे कीवर्ड्स का इस्तेमाल करना चाहिए जिसके जरिए गूगल उन्हें ट्रैक कर सके और सर्च इंजन में ला सके।
इसलिए आपको अपनी साइट को रैंक करवाने के लिए गूगल पर on page seo या off page seo करना सीखना होगा।

(3) Tranding topic:-

जब भी आप कोई पोस्ट लिख रहे हैं तो विषय का चुनाव अच्छी प्रकार से करें क्योंकि पहले से लिखी लिखाई पोस्ट के ऊपर कोई भी व्यक्ति पढ़ना पसंद नहीं करता इसलिए ज्यादा से ज्यादा ऐसे विषय को चुनने की कोशिश करें। जो अभी ट्रेंडिंग में चल रहे हो।

(4) New subjects:-

जब भी आप किसी विषय का चुनाव करते हैं पोस्ट लिखने के लिए तो ऐसे विषय को चुने जो नए हो। जिनके बारे में लोगों को या तो जानकारी बहुत कम हो या बिल्कुल भी ना हो। नए-नए विषयो का चुनाव करते हैं और लोगों को नई नई बातें बताते हैं तो आपके लोग आपकी पोस्ट को पढ़ना ज्यादा पसंद करते हैं। और इससे गूगल में रेंक भी जल्दी होता है।

(5) photo and video use :-

जब भी हम पोस्ट लिखते हैं उसके बाद में हमें उस विषय से संबंधित कुछ फोटोस और वीडियोस हमें हमारी पोस्ट में जरूर डालने चाहिए इससे एक तो हमारी पोस्ट अट्रैक्टिव बनती है और इसके साथ साथ ही यह हमारी साइट को रैंकिंग कराने में भी काफी हमारी मदद करती है।

(6) language:-

वैसे तो आप अपना ब्लॉग किसी भी भाषा में लिख सकते हैं पर यदि आप चाहते हैं कि आपकी ब्लॉग जल्दी से गूगल में रैंक हो जाए इसके लिए एक ही भाषा का इस्तेमाल करें एक ही भाषा के इस्तेमाल से आपका ब्लॉग जल्दी रैंक करेगा।

(7) niece :-

जब भी आप पर पोस्ट डाल रहे हैं तो एक ही टॉपिक से रिलेटेड पोस्ट डालें मतलब आपकी ब्लॉग साइट टेक्नोलॉजी के ऊपर है। टेक्नोलॉजी से संबंधित ही पोस्ट डालें। उस पर किसी अन्य विषय से संबंधित पोस्ट ना डालें।

(7) copy paste

ब्लॉगिंग करना बहुत मेहनत का काम होता है। परंतु कुछ लोग इसे करते समय थोड़ी चालबाजी कर जाते हैं।
कभी भी किसी और का ब्लॉक कॉपी पेस्ट ना करें क्योंकि गूगल बहुत ही आसानी से समझ जाता है कि आपने किसी दूसरे व्यक्ति का ब्लॉग कॉपी पेस्ट किया है इसके कारण वह आपके ब्लॉक को दी रैंक कर देता है। जिससे वह लोगों तक नहीं पहुंचती।

(8) main topic ko cover:-

एक बात हमेशा ध्यान रखें आपने जिस उद्देश्य से वेबसाइट बनाई है उसी टॉपिक पर पोस्ट लिखें और पोस्ट लिखते समय जिस विषय से संबंधित आप पोस्ट लिख रहे हैं उस पोस्ट हर एक बिंदु को बहुत ही अच्छे से एक्सप्लेन करें और मेन टॉपिक को जो भी उस विषय से संबंधित है उसको लिखना ना भूले।

(9)update blog posts:-

समय-समय पर नई नई टेक्नोलॉजी आती रहती है जिसके कारण हमारी ब्लॉक साइट एडवांस हो जाती है। जब भी पोस्ट लिख रहे हैं या साइड के ऊपर समय-समय पर अपडेटिंग करते रहे कोई भी नया टॉपिक आया है क्या कोई नया टॉपिक जुड़ता है तो उसको अपने पोस्ट में जरूर ऐड करें। और अपनी साइट को अपडेट करते रहे।

(10) keep patience during blogging :-

किसी भी नई साइट को बनाने में और रैंक होने में 6 महीने का समय आराम से लगता है। कभी कभी 1 साल भी लग जाता है। इसलिए कभी भी अपना पेशंस ना कोई धैर्य बनाए रखें। साइट पर लोग नहीं आ रहे हैं तो इसे छोड़िए मत l

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *