डोमेन नाम क्या होता हैं, कैसे बनाये? what is domain name in hindi?

नमस्कार दोस्तों क्या आप जानते हैं डोमेन नेम क्या होता है और आखिर डोमेन नेम क्या काम आता है आपने कभी ना कभी सुना होगा की कोई वेबसाइट है या फिर इसका यह डोमेन नेम buy करना है। इस domain पर क्लिक करना है आदि ऐसे सुनने को मिलता हैं, तो चलो आज जान लेते इसकी पूरी जानकारी इन हिंदी।

Domain Name क्या होता हैं? -व्हाट इज डोमैन नेम

लगभग सभी वेबसाइट को आप उनके डोमेन नाम से ही जानते हैं। जैसे कि google.com , technicalpariwar.com वेबसाइट की पहचान के लिए एक डोमेन नाम ( domain name ) होता है। अच्छे से समझ पाओ इसलिए हम आपको बता दें कि कोई भी website किसी न किसी server पर रहती है, जिसको हम hosting कहते हैं। और हर वेबसाइट की होस्टिंग का एक यूनिक ip एड्रेस ( internet protocol address ) होता हैं, जो IP Address को किसी भी मोबाइल डिवाइस या कंप्यूटर डिवाइस पर खोला जाता है तो आपको वहां पर वह वेबसाइट खुली हुई दिखेगी।

वेबसाइट के लिए डोमेन नेम क्यों जरूरी है

वेबसाइट तक पहुंचने के लिए आईपी एड्रेस की जरूरत होती है। आईपी एड्रेस के बिना हम उस वेबसाइट को नहीं खोल सकते और आईपी एड्रेस याद रखना मुश्किल होता है. आईपी ऐड्रेस numeric होते हैं इसलिए इनको एक इंसानी दिमाग के लिए याद रखना मुश्किल होता है। इसका एक आसान उपाय domain name होता है। जिसकी मदद से हम किसी भी नाम का डोमेन नेम बनाकर आसानी से उस वेबसाइट तक पहुंचने का दूसरा एड्रेस बना लेते हैं। जो याद रखने में आसान रहता है जबकि ip address (न्यूमैरिक कोड) याद रखना मुश्किल होता है इसलिए यह डोमेन नेम एक वेबसाइट के लिए बहुत जरूरी होता है।

Domain name and ip address kya hota hain
Ip address and domain process image

domain name ke prakar – डोमेन के प्रकार

Domain बहुत प्रकार के होते हैं। लेकिन हम इसको एक्सटेंशन ( extension ) के हिसाब से 2 वर्गों में बांट सकते हैं और बाद में Sub domain name भी देखने को मिलते हैं जिसको एक तीसरा प्रकार मान सकते हैं।

  1. TLd – top level domain name
  2. CCTLD – Country code top level domain name
  3. Sub domain name
Domain kitne parkar ke hote hain
Types of domain

TLD: Top Level Domain

ऐसे डोमेन नेम जिनकी एक्सटेंशन यह दर्शाते हो कि वह किसी खास काम के लिए एक पहचान देते हो जैसे कि शिक्षा हॉस्पिटल बिजनेस आदि, टॉप लेवल डोमेन नेम कहलाते हैं।

  • .com – all commercial
  • .Net – network
  • .me – individual
  • .gov – government
  • .edu – education
  • .org – organization ….

CCTLD – Country code top level domain name

कंट्री कोड टॉप लेवल डोमेन नेम ऐसा डोमेन नेम होता है जिसका एक्सटेंशन किसी देश को सुनिश्चित करता हो या किसी भी देश को बताता हूं। जैसे कि .in भाारत (india) देश को दर्शाताा है। इसी प्रकार

  • .pk पाकिस्तान (pakistan) के लिए
  • .Us यूनाइटेड स्टेट के लिए
  • .co.us यूनाइटेड स्टेट के लिए
  • .cn चीन के लिए
  • इसी तरीके से सभी देशों का डोमिन नेल एक्सटेंशन होता है..

Sub domain क्या होता है?

दोस्तों प्राइमरी डोमेन जैसे कि टेक्निकल परिवार डॉट कॉम ( technicalpariwar.com ) कि पहले कोई भी शब्द जोड़ दें तो वह एक subdomain नेम बन जाता है। जैसे कि मान लीजिए मुझे कोई blog वेबसाइट बनानी है तो मैं Blog.technicalpariwar.com बना सकता हूं। लेकिन subdomaim में आप www नहीं लगा सकते

आपने देखा होगा कि Google.com के बहुत सारे subdomaim name जैसे कि:

meet.google.comGoogle meet app ke liye
adsense.google.comadsense ke liye
account.google.comgoogle user account ke liye
Drive.google.comgoogle drive ke liye
photos.google.comgoogle photos ke liye

इसी तरह से मैं एक ही प्राइमरी डोमेन नेम से बहुत सारे अलग-अलग सब डोमेन नेम बना सकता हूं।

parts of a domain name url in hindi

अब आपने यह तो जान लिया कि डोमेन नेम होता क्या है और कितने प्रकार का होता है। अब यह भी जानना जरूरी है। कि एक domain में कितने हिस्से होते हैं मतलब structure of domain name system एक domain में कम से कम SLD और TLD / CCTLD होते हैैं, इनके बिना कोई भी डोमेन बन ही नहीं सकता।

structure of domain name system in hindi

TLD or CcTLD क्या हैं?

जैसे कि हमने ऊपर TLD के बारे में बताया था और अब ऊपर दी हुई फोटो में आप इन को अच्छे से देख कर समझ सकते हैं।

SLD क्या होता हैं?

sld की full form ये होती हैं: Second-level domain. जैसे कि आप हमारे डोमेन नेम Technicalpariwar.com देखोगे तो technicalpariwar में एस एल डी होगा। इसी तरह google.com डोमेन में एस एल डी google होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *