HTML kya hain? एच टी एम एल का पूरा रूप क्या है?

Htm kya hain kaise seekhe kon seekhayega html ki full form

नमस्कार दोस्तों हमारे इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि एचटीएमएल क्या होती है और एचटीएमएल की फुल फॉर्म क्या है इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे इसलिए अगर आप चाहते हो कि वेब डिजाइनिंग या ब्लॉगिंग करना तो एचटीएमएल को सीखना आपका पहला चरण होगा इसलिए एचटीएमएल की जानकारी हर किसी को होनी चाहिए।

HTML (एचटीएमएल) क्या होता है?

Html सबसे आसान कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज हैं। जिसका इस्तेमाल web page या एप्पलीकेशन बनाने में Front end languages की तरह इस्तेमाल होती हैं। इसलिये html एक programmer के लिए जरूरी computer programming coding है।

Html की फुल फॉर्म क्या हैं? ( What is full form of HTML)

Html कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की फुल फॉर्म यानी पूरा नाम “Hypertext Markup Language” होता है। एचटीएमएल एक तरीकेेे से मारकअप लैंग्वेज होती हैै।

html kisne banaya? Iski khoj kisne ki thi?

HTML की खोज नहीं हुई थी इसको इन्वेंट ( invent ) किया गया था। invent का हिंदी में मीनिंग आविष्कार/पहली बार बनाना होता हैं। HTML के inventor (बनाने वाला) Tim Berners-Lee हैं, जो कि एक Computer scientist थे।

Html को पहली बार बनाने वाले Tim Berners-Lee व्यक्ति की फोटो आप निचे देख सकते हैं।

html kisne banaya? Iski khoj kisne ki thi?
HTML ko pahli baar banane wala ki photo

HTML language को कब बनाया गया था?

HTML का पहला संस्करण सन-1993 में बनाया गया था। ओर इसके बाद इसको HTML 1.0 दर्शाया जाता हैं।

HTML संस्करणबनाये जाने की सन
HTML 1.01993
HTML 2.01995
HTML 3.01997
HTML 3.21997
HTML 4.011999
HTML 5.02012
HTML or release years

HTML पेज कोडिंग कैसे करे?

दोस्तो HTML बहुत आसान कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा हैं इसको केवल 7 दिन के कॉर्से से HTML का Basic और पर्याप्त html सीख सकते हैं। इसके लिए कोई कोर्सस करें बिना ही एचटीएमएल भाषा सीख सकते हैं। क्योंकि एचटीएमएल का basic coding इंटरनेट पर आज बिल्कुल फ्री में सीख सकते हैं, इसके लिए हमने कोर्सस बना रखा जो आप पढ़कर सीख सकते हैं।

यदि आपको HTML आती है, तो आप कंप्यूटर में नोटपैड (Notepad) में एचटीएमएल कोडिंग करके प्रे्रैक्टिस कर सकते हैं local host पर HTML से Web pages बना सकते हैं। जब नोटपैैड में एचटीएमएल कोडिंग पूरी हो जाए और इसको save करना हो तो फ़ाइल को .txt फॉर्मेट में ना करके .html फॉर्मेट में सेव करें।

दोस्तों इसी तरीके से कुछ नया सीखते रहे टेक्निकल परिवार के साथ में धन्यवाद फिर मिलेंगे नई पोस्ट में आप अपने सुझाव कमेंट बॉक्स में जरूर बताइए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *